Saturday, February 24, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeउत्तराखंडदो घंटों के बाद खोला गया नेशनल हाईवे-7, लैंडस्लाइड के चलते एक...

दो घंटों के बाद खोला गया नेशनल हाईवे-7, लैंडस्लाइड के चलते एक व्यक्ति ने गंवाई जान

चमोली: ऋषिकेश-कर्णप्रयाग राष्ट्रीय राजमार्ग-7 पंचपुलिया के समीप एक बार फिर बुधवार दोपहर बाद लैंडस्लाइड के चलते बाधित हो गया. करीब दो घंटों की कड़ी मशक्कत के बाद नेशनल हाईवे को खोला जा सका है और वाहनों को धीरे-धीरे निकाला जा रहा है. हालांकि, लैंडस्लाइड के चलते एक व्यक्ति को अपनी जान भी गंवानी पड़ी. जिला प्रशासन की टीम शव के शिनाख्त का प्रयास कर रही है.


राष्ट्रीय राजमार्ग पर भूस्खलन के कारण एक बाइक सवार बोल्डर की चपेट में आ गया और मलबे के नीचे दब गया. व्यक्ति को बचाने के काफी प्रयास किए गये लेकिन उसकी मौत हो गई. वहीं, पुलिस और एसडीआरएफ के जवानों ने शव को बोल्डरों के बीच से बाहर निकाला. इसके साथ ही लैंडस्लाइड के कारण एक कम्प्रेशर मशीन भी चट्टान के मलबे में दब गई. मलबा गिरने से हाईवे के दोनों तरफ वाहनों की लंबी लाइन लग गई थी. लेकिन जिला प्रशासन की टीम ने युद्धस्तर पर कार्य करते हुए सड़क से मलबा हटाया, जिससे करीब दो घंटे बाद हाईवे को खोला जा सका.


बता दें कि, 12 दिन पहले भी इसी मार्ग पर भूस्खलन हुआ था. ऋषिकेश से जोशीमठ हाईवे के बीच 247 किलोमीटर लंबी सड़क पर ये लैंडस्लाइड हुआ था. भूस्खलन का कारण मुख्यतः बारिश और सड़क चौड़ीकरण माना जा रहा है. इससे पहले जर्मनी की पॉट्सडैम यूनिवर्सिटी और रुड़की आईआईटी के एक ज्वाइंट रिसर्च में सामने आया था कि पिछले साल ऋषिकेश से जोशीमठ के बीच सितंबर-अक्टूबर महीने के दौरान करीब 309 भूस्खलन जोन सामने आए थे.

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें