Wednesday, April 24, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeउत्तराखंडटिहरी: जिलाधिकारी की अध्यक्षता में तहसील दिवस का हुआ आयोजन

टिहरी: जिलाधिकारी की अध्यक्षता में तहसील दिवस का हुआ आयोजन

टिहरी: जिलाधिकारी टिहरी गढ़वाल डॉ. सौरभ गहरवार की अध्यक्षता में आज खण्ड विकास कार्यालय कीर्तिनगर के सभागार में तहसील दिवस आयोजित किया गया। तहसील दिवस में 52 शिकायतें/अनुरोध पत्र दर्ज किये गये, जिसमें से अधिकांश शिकायतों का मौके पर निस्तारण किया गया तथा शेष प्रकरणाों पर समय सीमा निर्धारित कर गंभीरता के साथ निस्तारण करने के निर्देश दिये गये।

इस मौके पर अधिकांश शिकायतें जल संस्थान एवं जल निगम से संबंधित रही। इसके साथ ही लोनिवि, शिक्षा, पंचायत राज विभाग, सिंचाई, लघु सिंचाई, कृषि, पीएमजीएसवाई, विद्युत, समाज कल्याण, पूर्ति विभाग, उद्यान से संबंधित रही। बैठक में जिलाधिकारी ने डीएफओ, मुख्य शिक्षा अधिकारी, जिला शिक्षा अधिकारी, अधिशासी अभियन्ता पीएमजीएसवाई के अधिकारियों के अनुपस्थित रहने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की गई।

ग्राम जखेड़, जाखी डागर के विकास मेहरा ने खोंगचा बैस्वोड़ पेयजल योजना में पानी की अपूर्ति न होने, झूलती विद्युत लाइन तथा पीपी कन्यालधार, पाब, जखेड़ डागर, नौड़ा के क्षतिग्रस्त स्कूल भवन की शिकायत की गई, इस पर जिलाधिकारी ने क्रमशः जल निगम के अधिकारी को 10 दिन के भीतर कार्यवाही करने, विद्युत विभाग के अधिकारी को झूलती विद्युत लाइनों को एक माह में कार्य पूर्ण करने तथा खण्ड शिक्षा अधिकारी को दो दिन के भीतर क्षतिग्रस्त स्कूल भवनों का इस्टीमेट तैयार कर शासन को उपलब्ध कराने के निर्देश दिये गये। एकता विकास समिति के योगेश्वर प्रसाद डिमरी ने ग्राम मढ़ी क्षेत्र में पानी की अनियमित आपूर्ति, निर्माणाधीन नई पेयजल योजना के तहत टैंक से पृथक पाइप दिये जाने तथा अलकनन्दा हाइड्रो पॉवर प्रोजेक्ट के समीप कच्ची सड़क का डामरीकरण करने का अनुरोध किया गया, इस पर क्रमशः अधिशासी अभियन्ता जल निगम कीर्तिनगर एवं एसडीएम कीर्तिनगर को नियमानुसार मौके पर जाकर जांच करने के निर्देश दिये गये। स्वयं सहायता समूह मलेथा के कार्यकारिणी सदस्यों द्वारा क्षतिग्रस्त सिंचाई नहर के चलते खेतों में सिंचाई न होेने की शिकायत की गई, इस पर सिंचाई विभाग के अधिकारी को तत्काल कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये।
नगर पंचायत अध्यक्ष कीर्तिनगर कैलाशी देवी जाखी ने पंचायत क्षेत्र के अन्तर्गत राजस्व ग्राम की भूमि को परिवर्तित कर नगर पंचायत के नाम करने, नगर क्षेत्र में गेस्टहाउस बनाने, दुकानों का निर्माण कराने तथा शौचालय में पानी आपूर्ति करने का अनुरोध किया गया, इस पर अधि.अभि. जल संस्थान एवं ईओ नगर पंचायत को नियमानुसार आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये। ग्राम पारि पेन्डूली के कपिल सिंह ने गहड़ से पल्यताला मोटर मार्ग निर्माण से मकान में आई दरार के मुआवजे की मांग की गई, इस पर पीएमजीएसवाई के अधिकारी को 10 दिन के अन्दर कार्यवाही कर अवगत कराने के निर्देश दिये गये। इसके साथ ही बैठक में ग्राम जियालगढ़ चौपड़िया में क्षतिग्रस्त पेयजल पाइप लाइन, ग्राम बैरागना के सरोप सिंह ने विकलांग प्रमाण पत्र बनाने, आर्थिक सहायता, राशन कार्ड, पेयजल बिल आदि की शिकायतें एवं मांग की गई, जिस पर संबंधित अधिकारियों को नियमानुसार आवश्यक कार्यवाही कर संबंधितों को भी अवगत कराने के निर्देश दिये गये।

इससे पूर्व जिलाधिकारी द्वारा नवनिर्मित खण्ड विकास कार्यालय कीर्तिनगर का निरीक्षण किया गया। इस दौरान जिलाधिकारी ने समस्त कार्यलय कक्षों, बैठक कक्ष, शौचालय, छत आदि का बारीकी से निरीक्षण कर संबंधित निर्माणदायी संस्था को कुछ एक कार्यों की मरम्मत करने के निर्देश दिये गये। इसके साथ ही छत में प्रीफेब्रिकेटिट स्ट्रक्चर देते हुए हॉल बनाने को भी कहा।

इस अवसर पर डीडीओ सुनील कुमार, क्षेत्र पंचायत प्रमुख कीर्तिनगर सोबन सिंह पंवार, सीएमओ डॉ. मनु जैन, एसडीएम देवेन्द्र नेगी, सीएओ अभिलाषा भट्ट, सीवीओ आशुतोष जोशी, डीपीआरओ एम.एम.खान, डीएसओ अरूण वर्मा, एसआरटीओ चक्रपाणि मिश्रा, जिला आबकारी अधिकार कैलाश बिंजौला, जिला समाज कल्याण अधिकारी के.एस. चौहान, आयुर्वेदिक अधिकारी सुभाष, अधिशासी अभियन्ता लघु सिंचाई बृजेश गुप्ता, अधि.अभि. ग्रामीण निर्माण विभाग मीनल गुलाटी, मत्स्य अधिकारी गरिमा, तहसीलदार सुनील राज सहित अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें