Monday, June 17, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeउत्तराखंडउत्तराखंड: 22 जनवरी को छुट्टी का आदेश जारी! केंद्र सरकार की भांति...

उत्तराखंड: 22 जनवरी को छुट्टी का आदेश जारी! केंद्र सरकार की भांति देवभूमि में भी हुआ ऐलान

अयोध्या राम मंद‍िर में श्री रामलला की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर लोगों में खासा उत्साह देखने को मिल रहा है। वहीं धामी सरकार ने 22 जनवरी के पावन दिन को और खास बनाने के लिए राज्य में छुट्टी का ऐलान किया है। जिससे रामलला की प्राण प्रतिष्ठा का अनुष्ठान कार्यक्रम सभी लोग घर बैठे देख सकें।

केंद्र सरकार के बाद उत्तराखंड सरकार ने भी श्रीराम जन्मभूमि परिसर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के आयोजन को लेकर छुट्टी का आदेश जारी कर दिया है। इस दौरान प्रदेश के सभी शैक्षणिक संस्थाएं बंद रखने के आदेश हुए हैं तो वहीं सार्वजनिक कार्यालय और कोषागार को आधे दिन के लिए बंद रखने के निर्देश जारी किए गए हैं। उत्तराखंड में धामी सरकार ने भी अब श्रीराम जन्मभूमि परिसर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा को देखते हुए छुट्टी के आदेश जारी कर दिए हैं। इस दौरान आदेश में यह स्पष्ट किया गया है कि राज्य में जहां सभी स्कूल और कॉलेज पुरी तरह से बंद रहेंगे। वहीं राजकीय कार्यालय, संस्थान, औद्योगिक प्रतिष्ठान के साथ ही बैंक और उपकोषागार आधे दिन के लिए बंद रखने के आदेश हुए हैं। इस तरह सभी सरकारी कार्यालय और कोषागार दिन में ढाई बजे तक बंद रहेंगे। जबकि इसके बाद कार्यालय में सार्वजनिक कार्य होगा। उत्तराखंड में भी केंद्र सरकार और उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा छुट्टी को लेकर आदेश जारी होने के बाद ऐसी ही आदेश की उम्मीद लगाई जा रही थी और सरकारी कर्मचारी भी सरकार द्वारा इस पर जल्द फैसला लिए जाने का इंतजार कर रहे थे। ऐसे में आखिरकार शुक्रवार सुबह इससे जुड़ा आदेश शासन ने जारी कर दिया है। सचिव सामान्य प्रशासन दीपेंद्र कुमार चौधरी की तरफ से यह आदेश जारी हुआ है। इससे पहले केंद्र सरकार भी सभी सरकारी कार्यालय में आधे दिन की छुट्टी किए जाने से जुड़ा आदेश एक दिन पहले ही जारी कर चुकी है। उधर उत्तर प्रदेश सरकार ने भी छुट्टी का आदेश जारी किया हुआ है और अब उत्तराखंड सरकार ने भी इस पर कदम बढ़ाते हुए आदेश जारी किया है। अयोध्या में श्री राम मंदिर परिसर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के मौके पर धार्मिक आस्था को देखते हुए घरों में पूजा-अर्चना के लिए राज्य सरकार की तरफ से यह फैसला लिया गया है।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें