Wednesday, May 22, 2024
No menu items!
Google search engine
Homecrimeउत्तराखंड में बड़ी घटना: उत्तरकाशी में सुरंग के अंदर 30-35 मजदूर फंसे

उत्तराखंड में बड़ी घटना: उत्तरकाशी में सुरंग के अंदर 30-35 मजदूर फंसे



उत्तरकाशी: दिवाली के दिन एक बड़ा हादसा उत्तरकाशी में हुआ है, जहां एक बंद सुरंग के अंदर 30 से 35 मजदूरों के फंसे होने की जानकारी सामने आ रही है. राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) और राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल (एसडीआरएफ) की टीमें पहले ही घटनास्थल पर पहुंच चुकी हैं। उत्तरकाशी के पुलिस अधीक्षक भी मौजूद हैं और स्थिति पर बारीकी से नजर रख रहे हैं। फंसे हुए श्रमिकों को निकालने के लिए सुरंग को तेजी से खोलने का प्रयास किया जा रहा है।

बड़कोट कोटी गांव, सिल्क्यार पोल, उत्तरकाशी: बड़कोट कोटी गांव में काम करते समय लगभग 30 से 35 व्यक्ति एक नवनिर्मित सुरंग के अंदर फंस गए हैं। जानकारी सामने आते ही राहत और बचाव दल को घटनास्थल के लिए रवाना किया गया. टनल को खोलने की तुरंत कोशिश की जा रही है. प्रारंभिक रिपोर्टों के अनुसार, सुबह काम के घंटों के दौरान सुरंग ढहनी शुरू हो गई, जिससे लगभग 30 से 35 कर्मचारी और अन्य कर्मचारी अंदर फंस गए।

चल रहे बचाव प्रयास:

फिलहाल, सभी लोगों के सुरक्षित होने की खबर है, लेकिन उन्हें जल्द से जल्द बाहर निकालने के लिए तत्काल प्रयास किए जा रहे हैं। राज्य आपदा प्रबंधन टीम (एसडीआरएफ) और राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन टीम (एनडीआरएफ) सक्रिय रूप से राहत और बचाव कार्यों में लगी हुई है। अधिकारियों का कहना है कि सुरंग को तुरंत खोलने के लिए हर संभव उपाय किए जा रहे हैं।

फंसे हुए 30-35 श्रमिकों के लिए चिंताएँ:

प्रवेश रिकॉर्ड के अनुसार, सुरंग के अंदर रात में काम करने वाले श्रमिकों की संख्या लगभग 174 होने का अनुमान है। हालाँकि, यह संख्या अधिक हो सकती है। बताया जा रहा है कि घटना सुबह साढ़े पांच बजे के आसपास हुई, लेकिन सूचना देर से मिली। मौजूदा अनुमान के मुताबिक सुरंग के अंदर फंसे मजदूरों और कर्मचारियों की संख्या 30 से 35 के बीच हो सकती है.

पिछली सुरंग घटना:

इससे पहले, उत्तराखंड में एक और बड़ी घटना देखी गई थी जहां एक सुरंग के अंदर फंसने के कारण 20 से अधिक लोगों की जान चली गई थी। वर्तमान घटना को गंभीर बताया जा रहा है, लेकिन सभी की सुरक्षित निकासी सुनिश्चित करने के लिए सभी प्रयास किए जा रहे हैं। स्थिति से निपटने के लिए लगातार प्रयास जारी हैं।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें