Saturday, February 24, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeधर्म संस्कृतिमहाशिवरात्रि पर बाबा केदारनाथ के कपाट खोलने के तिथि की घोषणा, 25...

महाशिवरात्रि पर बाबा केदारनाथ के कपाट खोलने के तिथि की घोषणा, 25 अप्रैल सुबह 6 बजकर 20 मिनट से श्रद्धालुओं को मिलेंगे दर्शन

रुद्रप्रयाग. भगवान शिव के 11वें ज्योतिर्लिंग केदारनाथ धाम (Kedarnath Temple Open Date) के कपाट खुलने का श्रद्धालुओं को काफी वक्त से इंतजार था. उनका इंतजार आज (शनिवार) महाशिवरात्रि (Maha Shivaratri 2023) पर खत्म हो गया. वेदपाठी और आचार्य गणों की मौजूदगी में केदारनाथ के कपाट खोलने की तिथि की घोषणा की गई. धाम के कपाट 25 अप्रैल (मंगलवार) को सुबह 6 बजकर 20 मिनट पर मेष लग्न में खोले जाएंगे. जिसके बाद श्रद्धालु बाबा केदार के दर्शन कर सकेंगे.

उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग जिले में बाबा केदारनाथ का मंदिर स्थित है. बाबा केदार की शीतकालीन पंचमुखी विग्रह डोली हर साल शीतकाल के लिए ऊखीमठ के ओंकारेश्वर मंदिर में विराजित होती है और महाशिवरात्रि को विधि विधान के साथ बाबा के कपाट खुलने की तिथि घोषित होती है. इस साल बाबा केदार के कपाट खुलने की तिथि 25 अप्रैल घोषित हो गई है.

मंदिर के पुजारी शिव शंकर ने बताया कि 20 अप्रैल को भैरवनाथ जी की पूजा होगी और 21 अप्रैल को बाबा की पंचमुखी मूर्ति डोली में श्री ओंकारेश्वर मंदिर से केदारनाथ धाम को प्रस्थान करेगी. इस दिन पंचमुखी डोली विश्वनाथ मंदिर गुप्तकाशी विश्राम करेगी. 22 अप्रैल को रात्रि विश्राम हेतु डोली फाटा पहुंचेगी. 23 अप्रैल को पंचमुखी डोली फाटा से रात्रि विश्राम हेतु गौरीकुंड पहुंचेगी. 24 अप्रैल को पंचमुखी डोली गौरीकुंड से केदारनाथ धाम पहुंचेगी और 25 अप्रैल मंगलवार प्रात: 6 बजकर 20 मिनट पर श्री केदारनाथ धाम के कपाट श्रद्धालुओं के लिए दर्शनार्थ खुलेंगे.

बताते चलें कि श्री बदरीनाथ धाम के कपाट खुलने की घोषणा भी हो चुकी है. बदरीनाथ के कपाट इस साल 27 अप्रैल (बृहस्पतिवार) को खुल रहे हैं जबकि परंपरागत रूप से अक्षय तृतीया को श्री गंगोत्री- यमुनोत्री धाम के कपाट खुलते हैं. इस बार अक्षय तृतीया 22 अप्रैल को है. चैत माह में श्री गंगोत्री-यमुनोत्री मंदिर समितियों द्वारा कपाट खुलने की तिथियों की विधिवत घोषणा की जाएगी.

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें