Thursday, May 23, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeउत्तराखंडउत्तराखंड: अवैध मदरसे का भंडाफोड़! 24 बच्चों का शारीरिक शोषण कर कराते...

उत्तराखंड: अवैध मदरसे का भंडाफोड़! 24 बच्चों का शारीरिक शोषण कर कराते थे काम, संचालिका गिरफ्तार

उत्तराखंड के जनपद ऊधम सिंह नगर जिले में एक अवैध मदरसे का पुलिस ने भंडाफोड़ किया है। पुलभट्टा इलाके में चल रहे इस मदरसे में बच्चों का शारीरिक शोषण करके उनके काम कराया जाता था। पुलिस टीम ने 24 बच्चों को अवैध मदरसे से मुक्त कराकर उनके परिजनों के हवाले किया है। अवैध मदरसे की संचालिका को गिरफ्तार कर लिया गया है तो वही संचालक फरार है।

जनपद ऊधम सिंह नगर के पुलभट्टा क्षेत्र में चल रहे अवैध मदरसे के खिलाफ पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है। मदरसे से 24 बच्चों को मुक्त कराया है। बच्चे बंद कमरे में कैद थे। पुलिस ने मौके से एक महिला को भी गिरफ्तार किया है। बच्चों को उनके परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया है। पुलिस को पुलभट्टा थाना क्षेत्र में चल रहे अवैध मदरसे की शिकायत मिली थी। शिकायत के बाद पुलिस ने मदरसे के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की। थाना पुलिस ने अवैध रूप से संचालित मदरसे से 24 बच्चों का रेस्क्यू किया। इन बच्चों की काउंसलिंग के बाद परिजनों के सुपुर्द कर दिया है। वहीं मदरसे को सीज करते हुए मदरसे की संचालिका को गिरफ्तार किया है। मदरसे की संचालिका का पति फरार चल रहा है। सत्यापन के दौरान पुलिस टीम ने एक कमरे से 24 नाबालिग बच्चों को मुक्त कराया। दरअसल पुलिस मुख्यालय से मिले निर्देश और शिकायतों पर पुलभट्टा थाना क्षेत्र के वार्ड नंबर 18 चारबीघा बाबू गोटिय़ा सिरौलीकला में बाहरी व्यक्तियों के सत्यापन का अभियान चलाया गया था। स्थानीय व्यक्तियों द्वारा बताया गया कि वार्ड नंबर 18 चारबीघा सिरौलीकला बाबू गोटिया क्षेत्र में इरशाद के घर पर अवैध रूप से एक मदरसा बना था। ये मदरसा बिना अनुमति के संचालित किया जा रहा था। सूचना पाकर जब टीम मौके पर पहुंची तो मदरसे में 24 बच्चे बंद कमरे में पाए गए। ये बच्चे काफी डरे और सहमे हुए थे। आरोपियों द्वारा बच्चों का शारीरिक शोषण कर घर का काम कराया जाता है. जिसके बाद पुलिस टीम द्वारा मौके पर सीडब्ल्यूसी टीम को बुलाया गया। सीडब्ल्यूसी (बाल कल्याण समिति) टीम ने बच्चों की काउंसलिंग की। इसके बाद बच्चों को परिजनों के सुपुर्द किया गया। अवैध रूप से चल रहे मदरसे को सीज कर दिया गया। मौके से इसकी संचालिका खातून बेगम नाम की महिला को गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में खातून ने बताया कि मदरसे को उसका पति इरशाद और वह मिल कर संचालित करते थे। आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पुलिस टीम फरार आरोपी की गिरफ्तारी के प्रयास कर रही है।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें